‘मोदी नीति’ पर चर्चा के लिए जुटेंगे देश के दिग्गज संपादक

देश के दिग्गज संपादक पहली बार मोदी सरकार 2.0 की ‘मोदी नीति’ पर चर्चा के लिए एक जगह उपस्थित हो रहे हैं। 6 जुलाई, 2019 को दिल्ली के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में वरिष्ठ पत्रकार और लेखक डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल की प्रभात प्रकाशन से प्रकाशित पुस्तक “मोदी नीति” का लोकार्पण हो रहा है। इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार एवं इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के अध्यक्ष श्री राम बहादुर राय के साथ TV9 भारतवर्ष के न्यूज डायरेक्टर श्री हेमंत शर्मा, इंडिया टुडे के कंसल्टिंग एडिटर श्री राजदीप सरदेसाई, क्विंट के प्रेसिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर श्री संजय पुगलिया, आज तक के एक्जक्यूटिव एडिटर श्री सईद अंसारी, न्यूज नेशन के मैनेजिंग एडिटर श्री अजय कुमार और जनसत्ता के एक्जीक्यूटिव एडिटर श्री मुकेश भारद्वाज सरीखे दिग्गज संपादकों के अलावा कई बड़े साहित्यकार और शिक्षाविद ‘मोदी नीति’ पर चर्चा में भाग लेंगे। परिचर्चा में मानव रचना यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. संजय श्रीवास्तव भी शामिल होंगे।

कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में दोपहर ढाई बजे ‘मोदी नीति’ पुस्तक के लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता श्री राम बहादुर राय करेंगे। जबकि इस समारोह के मुख्य अतिथि केंद्रीय ग्रामीण विकास, पंचायती राज तथा कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर होंगे।

 

पुस्तक के बारे में

वरिष्ठ पत्रकार और लेखक डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल की नवीनतम पुस्तक ‘मोदी नीति’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछले पांच वर्षों की कार्यशैली का दर्पण है। यह पुस्तक प्रधानमंत्री मोदी के पिछले पांच वर्षों के कार्यों से समाज, देश और मानवता को जो नई दिशा, दशा और गति मिली है, इसकी जानकारी वृहद फलक पर देती है। मोदी नीति’ पुस्तक जितनी आज की है, उससे कहीं अधिक आने वाले कल की है, क्योंकि यही वह नींव है, जिसपर बदलते भारत की इमारत तैयार हो रही है।

‘मोदी नीति’ पुस्तक की यह विशेषता है कि इसमें काफी सहज तरीके से आंकड़ों के माध्यम से संदर्भों को विश्लेषित किया गया है। डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल की यह किताब इस बात का भी जवाब देती है कि आज जब ये महसूस हो रहा है कि इक्कीसवीं सदी भारत की सदी होगी, तो इस आत्मविश्वास के पीछे की वजह क्या है। कुछ वर्ष पहले पूरे विश्व में जिस देश की पहचान भ्रष्टाचार, गरीबी, भुखमरी वाले देश के रूप में होती थी, वो आज अचानक विकास के रिकॉर्ड कैसे बनाने लगा है, न्यू इंडिया की बात किस प्रकार हो रही है, इसकी असली वजह क्या है? ‘मोदी नीति’ इन सारे सवालों के जवाब समग्रता में देती है। ‘मोदी नीति’ से पहले डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर पहले ही दो किताबें “मोदी मंत्र” और “मोदी सूत्र” के नाम से प्रकाशित हो चुकी हैं। यह प्रधानमंत्री मोदी पर उनकी ट्रिलॉजी है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*