प्रधानमंत्री मोदी पर लिखी नई कविता वायरल

November 28, 2017 Admin 0

लेखक हरीश चन्द्र बर्णवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर एक कविता लिखी है, जो कि इस समय काफी वायरल हो रही है। इसका वीडियो भी तैयार किया गया है। इस कविता को सोशल मीडिया पर लोग काफी पसंद कर रहे हैं। रिश्ते नाते सब छोड़ कर, चल पड़ा हूँ राष्ट्रपथ पर, nice lines by @hcburnwal pic.twitter.com/9euezgLWPZ — शलभ मणि त्रिपाठी (@shalabhmani) November 27, 2017 लेखक हरीश बर्णवाल के फेसबुक पेज पर लोगों ने अच्छी प्रतिक्रियाएं दी हैं

Share

नवभारत टाइम्स में कांग्रेसी नेताओं के अपशब्द पर छपा आलेख

November 22, 2017 Admin 0

नवभारत टाइम्स ने 22 नवंबर को लेखक हरीश चन्द्र बर्णवाल का आलेश प्रकाशित किया। ये लेख हुबहू यहां प्रकाशित किया जा रहा है   देखिए कब-कब कांग्रेसी नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी को गालियां दीं   यूथ कांग्रेस के एक ट्वीट ने इस समय पूरे देश में सियासी उफान पैदा कर दिया है। यूथ कांग्रेस की ऑनलाइन मैगजीन के ट्विटर हैंडल से किए गए इस ट्वीट में सीधे-सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भद्दा मजाक उड़ाने की कोशिश की गई है। घटिया [More…]

Share

IGNCA के 30 वर्ष पूरे होने पर सेमिनार का आयोजन

November 19, 2017 Admin 0

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के 30 वर्ष पूरे होने पर एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 18 नवंबर, 2017 को आयोजित इस कार्यक्रम का थीम रखा गया था MY IDEA OF NEW INDIA.  इस कार्यक्रम में विख्यात अर्थशास्त्री और ICSSR के सदस्य सचिव प्रो. वी के मल्होत्रा, श्री शंकराचार्य संस्कृत महाविद्यालय की डीन प्रो. शशि प्रभा कुमार, आज तक के संपादक (स्पेशल प्रोजेक्ट्स) सईद अंसारी, सुप्रीम कोर्ट के वकील विक्रमजीत बनर्जी और पत्रकार-लेखक हरीश चन्द्र बर्णवाल शामिल हुए।   कार्यक्रम [More…]

Share

राहुल गांधी पर लेखक हरीश चन्द्र बर्णवाल का विश्लेषणात्मक लेख

November 15, 2017 Admin 0

नवभारत टाइम्स ने 15 नवंबर, 2017 को राहुल गांधी पर एक आलेख प्रकाशित किया था। इसे यहां हुबहू प्रस्तुत किया जा रहा है।   राहुल गांधी का हिन्दू प्रेम–आंकड़ों के जरिये मंदिर यात्रा का विश्लेषण भारतीय सामाजिक परंपरा में एक कहावत है कि “अगर सच्चे अर्थ में कोई धार्मिक व्यक्ति राजनीति करे तो समझिए समाज की बेहतरी के लिए कुछ होने वाला है, लेकिन अगर राजनीतिक व्यक्ति धर्म का चोला ओढ़ ले तो यकीन मानिए समाज में कोई बड़ा खतरा [More…]

Share